गालिब

जन्मदिन विशेष: जब ग़ालिब और ज़ौक़ भरी महफ़िल में लड़ पड़े

“हैं और भी दुनिया में सुखन-वर बहुत अच्छे, कहते हैं कि ग़ालिब का है अंदाज-ए-बयाँ और” ।।  आज मिर्ज़ा असदुल्लाह बेग़ खां यानी मिर्ज़ा ग़ालिब की जयंती है। अपने ज़ुदा अंदाज-ए-बयाँ- के लिए मशहूर मिर्ज़ा ग़ालिब को भला शेरो-शायरी का कौन कद्रदान नहीं जानता होगा। और तभी तो ख़ुद ग़ालिब ने लिखा है – “पूछते
Read More