कांग्रेस

विक्रम-बेताल: भाजपा यशस्वी क्यों है?

पिछली कड़ी में अनिवार्य मतदान एक कर्त्तव्य हो या नहीं, इस बात का राजा विक्रम सही जवाब दे देते हैं और शर्त के अनुसार बेताल पुन: पेड़ पर लटक जाता है। हर बार की तरह राजा ने भी हार नहीं मानी, और उसे पेड़ से उतार कर अपने कंधों पर लाद कर मंदिर की तरफ
Read More

कांग्रेस: जो हौद से गयी सो बूंद से नहीं आती

– अनिरुद्ध जोशी बचपन में मेरी चाची ने एक कहानी सुनायी थी। अकबर और बीरबल की कहानी। एक बार बादशाह अकबर एक कीमती अरबी इत्र की खुशबू ले रहे थे। अचानक उस इत्र की कुछ बूंदें कालीन पर छलक कर गिर गयी। बादशाह ने तुरंत झुक कर उस गिरे  इत्र को  उँगलियों से चुन कर सूंघने
Read More

यूपी में जाति और मतों का चक्रव्यूह

–शिवांगिनी पाठक (@ShivanginiPatha) गुजरने वाला समय मानव के सही या गलत, अच्छे या बुरे विचारों में निरंतर परिवर्तन का साक्षी रहा है: चक्रवर्ती राजगोपालाचारी युद्ध की आधुनिक परिभाषा में अब कुरुक्षेत्र युद्ध जैसा कुछ भी शेष नहीं रह गया है जहां देवदूत धर्म की प्रतिष्ठा, रक्षा की ख़ातिर राक्षसों को ललकारते थे। जहां युद्ध की
Read More