आईएस

वैश्विक आतंकवाद: एक लाइलाज बीमारी

– योगेन्द्र भारद्वाज विश्व के महापुरुषों ने अपनी अपनी संस्कृति को सर्वोत्कृष्ट रखने का प्रयत्न किया था, जिसमें भारत ने विश्वगुरू की उपाधि भी धारण की। लेकिन आज समग्र जगत एक ऐसी बीमारी का शिकार हो रहा है, जिसकी समाप्ति अत्यन्त दुष्कर है। यह बीमारी लाइलाज है और वैश्विक महामारी का रूप ले चुकी है।
Read More

अलेप्पो से आए 'आख़िरी संदेश' जो कभी 'आख़िरी' थे ही नहीं

– अमन गुप्ता (@amanalbelaa) इन दिनों सीरिया के शहर अलेप्पो की स्थिति किसी से छिपी नहीं है। सरकारी सेना और विद्रोहियों के बीच आम नागरिक की जिंदगी ख़तरे में हैं। भारी बमबारी में बड़ी बड़ी इमारतें जमींदोज़ हो गईं। लाखों लोग मर रहे हैं। हर तरफ चीख पुकार है और लाशों का ढेर लगा हुआ
Read More

मेरी आपबीती: इस्लामिक स्टेट के चंगुल से निकलीं नादिया मुराद

‘नादिया मुराद बासी ताहा’ इराक़ के उत्तरी इलाके में बसे सिंजार की मूल निवासी हैं. नादिया मुराद की कहानी अपने आप में एक उदाहरण है उन लोगों के लिए जिन्होंने सब कुछ खोने के बाद भी संघर्ष करना नहीं छोड़ा. अगस्त 2014 में इस्लामिक स्टेट द्वारा बंधक बनाई गईं नादिया अदम्य साहस दिखाते हुए आज
Read More