अमित

चर्चा के चबूतरे पर जगमोहन: कश्मीर, जिहाद और पंडितों का निर्वासन

28 साल पहले 1990 में, ऐसा देखने में आया कि कश्मीर से वहाँ के अल्पसंख्यक समुदाय (कश्मीरी पंडित) को बड़ी संख्या में बल-पूर्वक निर्वासन का सामना करना पड़ा। 19 जनवरी 1990 की रात सैकड़ों की संख्या में लाउडस्पीकरों ने भारत-विरोधी, पंडित विरोधी और आज़ादी समर्थक नारे लगाने शुरु कर दिए… राज्य का तंत्र लगभग-लगभग ख़त्म
Read More

Kashmir 28 Years Back: In Conversation with JAGMOHAN-Decoding Kashmiri Pandit Exodus

What happened Before and Beyond Jan 1990? What were the sequence of events that led to Kashmir Crisis… Who is responsible for Kashmiri Pandit exodus? Amit and Ashish Kaul spoke on the issue of #KashmirConflict and many aspects of Kashmir Politics with The Former Governor of J&K, Padma Vibhushan Jagmohan…“Chaupal” presents the edited parts of the
Read More

"क्या सरकार एक साथ चुनाव को लेकर गंभीर है या सिर्फ चर्चा चाहती है?"

चार न्यायाधीशों द्वारा प्रेस कॉन्फ्रेंस का मसला हो या देश भर में एक साथ चुनाव कराने का… अथवा क्या हम लोकतंत्र की संसदीय प्रणाली से अध्यक्षीय प्रणाली की ओर जा रहे हैं? देश में जारी वर्तमान बहस के कई मसलों पर चौपाल के चबूतरे पर अमित और त्रिवेंद्रम प्रताप सिंह ने बात की प्रख्यात संविधानविद डॉ.
Read More

जन्मदिन विशेष: जो नेहरु जी ने 1947 में किया, वह अटल जी ने 1984 में किया

कुछ याद करने की कोशिश कीजिए। विभाजन की एक तस्वीर… जवाहर लाल नेहरु ‘प्रधानमंत्री’ जवाहर लाल नेहरु हो चुके थे। देश रक्तरंजित विभाजन की पीड़ा सह रहा था। धर्म के नाम पर होने वाली हिंसा में दोनों ओर लोग कट-मर रहे थे। राजधानी होते हुए, दिल्ली इससे प्रभावित ना हो, ऐसा नहीं हो सकता था।
Read More

भोपाल गैस त्रासदी: गोरखपुर एक्सप्रेस, जो स्टेशन पर नहीं रुकी

यह कहानी भोपाल गैस त्रासदी के समय भोपाल रेलवे स्टेशन पर आने वाली गोरखपुर एक्सप्रेस की है, जो लाशों से पटे भोपाल स्टेशन की तरफ बढ़ रही थी। पूरा स्टेशन मिथाइल आइसोसाइनाइट गैस की चपेट में आ चुका था, ऐसे में अगर ट्रेन स्टेशन पर रुकती तो मृतकों की संख्या में निश्चित इज़ाफ़ा होता। ऐसी
Read More

चर्चा के चबूतरे पर देश की सबसे युवा सरपंच जबना चौहान

गरीब परिवार में जन्म, दसवीं के बाद आगे की पढ़ाई बंद करने का दबाव,लेकिन पढ़ने के लिए संघर्ष जारी रहा। मनरेगा में काम किया, रोज़-रोज़ बीसियों किलोमीटर का पैदल सफर, साथ-साथ छोटी सी नौकरी की… अपनी इसी ज़िद  के चलते वो ना सिर्फ सरपंच बनी बल्कि  उसने इतिहास रच दिया। अब ये सामान्य ज्ञान के
Read More

चुनाव: बहिष्कार से विकास की आस

__अमित (AmitBharteey) अगर आपकी राजनीति में रुचि हैं और इससे संबंधित ठीक-ठाक सामग्री पढ़ते रहते हैं तो आपने कई विद्वानों को ये कहते पाया होगा कि गरीबों का, अंतिम-जन का सबसे आख़िरी और कारगर उपाय उसका अपना मत होता है। जब चुनी गईं सरकारें और प्रतिनिधि पाँच साल (या निर्धारित कार्यकाल) में उसकी अपेक्षाओं के
Read More

चर्चा के चबूतरे पर भारत के पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त एस वाई क़ुरैशी

पाँच राज्यों में चुनावी बिगुल बज चुका है। इसी बीच चुनावों में धनबल रोकने, नोटबंदी के दौर में चुनावों को कैशलेस होने की बातें भी की जा रही हैं। संघ की सरकार के मुखिया, प्रधानमंत्री जी भी कई बार चुनाव सुधारों की बात कह चुके हैं… इन्हीं तमाम मसलों को लेकर चौपाल के अमित पहुँचे  एक
Read More

'आप' ने राजनीति में विकल्प के नाम को बदनाम कियाःयोगेंद्र यादव

देश-दुनिया की राजनीति में छाए तमाम मसलों और  आम आदमी पार्टी की राजनीति से जु़ड़े  प्रश्नों  को लेकर हमने चर्चा की योगेंद्र यादव से… इस विस्तृत चर्चा का पहला भाग हम प्रकाशित कर चुके हैं. प्रस्तुत है चर्चा का दूसरा भाग… बदलते हुए युग में ‘आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस‘ ‘डिलेड प्रेगनेंसी‘ जैसे टर्म्स परिवार, समाज और संबंधों को बहुत तेजी से
Read More

निर्धारित प्रक्रिया पूरी होने के बाद होगा पार्टी बनाने का फैसलाःयोगेंद्र यादव

देश की राजनीति में छाए तमाम मसलों और “स्वराज अभियान” आंदोलन को एक राजनीतिक दल में परिवर्तित करने से जुड़े प्रश्नों को लेकर हमने चर्चा की योगेंद्र यादव से… इस विस्तृत चर्चा को हम दो भागों में पेश कर रहे हैं. प्रस्तुत है चर्चा का पहला भाग… स्वराज अभियान को एक राजनीतिक दल बनाने को लेकर
Read More