हम कौन हैं/About Us

‘चौपाल’ विचारों को समर्पित एक “ओपन प्लेटफॉर्म” हैं. मसालेदार पत्रकारिता से हटकर हमारी कोशिश हिंदी और अन्य सभी भारतीय भाषाओं में (यद्पि अंग्रेजी से कोई आपत्ति नहीं है) विचारों के लिए एक ऐसा प्लेटफॉर्म उपलब्ध कराना है जहाँ समसामायिक मसलों पर गंभीरता से विचार व्यक्त किए जा सकें. ‘चौपाल’ एक गैर-लाभकारी प्रयास है. इससे राजस्व बनाने का कोई उद्देश्य/लक्ष्य नहीं है. फिर भी भविष्य में यदि इससे कुछ आय होती है तो उसका उपयोग जरूरतमंदों की शिक्षा के लिए किया जाएगा.

‘चौपाल’ बनाने के पीछे हमारा उद्देश्य विचारों का विकेंद्रीकरण भी है. अच्छे और महत्वपूर्ण विचार सिर्फ  दिल्ली या मुंबई जैसे महानगरों से ही नहीं आते बल्कि ये सुदूर किसी गाँव या क़स्बे में बैठे किसी भी सामान्य-जन के हो सकते हैं.

चौपाल आपको अपने क्षेत्र के उन प्रमुख व्यक्तियों के इंटरव्यू करने का भी अवसर उपलब्ध कराता है, जिन्होंने जमीनी स्तर पर जनकल्याण के उल्लेखनीय कार्य किए हों.

इसकी एक विशेषता यह भी है कि इसका वेब पता (URL) देवनागरी (हिंदी) में है.
चौपाल.भारत (‘चौपाल’ पर Chaupal.org से भी पहुंचा जा सकता है)
Twitter पर ये @ChaupalBharat हैंडल से मौज़ूद है.
फेसबुक पर चौपाल को पसंद (लाइक) कीजिए /ChaupalB

‘चौपाल’ को पुरस्कार
bobs अपनी शुरुआत से महज़ 80 दिनों में चौपाल ने DW (डॉयचे वेले), जर्मनी का theBOBS-2016 (हिंदी श्रेणी) पुरस्कार जीता।

 

 

संस्थापक संपादक/संयोजक- अमित (@AmitBharteey)

‘चौपाल’ लगाने में जिन्होनें सहयोग दिया-

  • संतोष कुमार (गोरखपुर, उ.प्र.)
  • दीपक शर्मा (भोपाल, म.प्र.)
  • रोहित द्विवेदी (जालौन, उ.प्र.)
  • पीयूष गुप्ता (जालौन, उ.प्र.)
  • आशीष गुप्ता (जालौन, उ.प्र.)
  • अभिमन्यु कुमार साहा (बिहार शरीफ़, बिहार)
  • श्रीश चंद्र (अंबेडकर नगर, उ.प्र.)

और बढ़ता हुआ कारवां…

  • अमन गुप्ता (मुख्य संपादक)
  • शिशू सिंह
  • प्रभात कुमार
  • दीपक मिश्र

 

Chaupal is an Opinion Platform dedicated to all Indian languages and it is Open for All. Our aim is to provide a platform in Hindi and other Indian languages (however we have no problem with English language) on which anybody can express their views/opinion on contemporary issues, rather than spicy journalism . Chaupal is a Non-profitable Endeavour. We are not trying to make any revenue from it. In future, if we earn something from it, it would be spent to educate the needy.

Another aim of Chaupal is the Decentralization of Opinions. Innovative and important thoughts doesn’t come only from metro like Delhi or Mumbai… but these may be of some common man (Aam Aadmi) also, sitting in a remote area village or town.
One of its speciality is that, its URL is in Devnagri (Hindi).
One can reach Chaupal through http://चौपाल.भारत  (Chaupal.org is the another way to reach Chaupal)
Our Twitter handle is @ChaupalBharat
Like us on Facebook /ChaupalB

Founding Editor/Moderator- Amit (@AmitBharteey)

The helping hands who helped in arranging Chaupal-

  • Santosh Kumar (Gorakhpur, U.P.)
  • Deepak Sharma (Bhopal, M.P.)
  • Rohit Dwivedi (Jalaun, U.P.)
  • Piyush Gupta (Jalaun, U.P.)
  • Ashish Gupta  (Jalaun, U.P.)
  • Abhimanyu Kumar Saha (Bihar Sharif, Bihar)
  • Shreesh Chandra (Ambedkar Nagar, U.P.)

the growing Caravan…

  • Aman Gupta (Editor-in-Chief )
  • Shishu Singh
  • Prabhat Kumar
  • Deepak Mishra